RPSC RAS Mains Result 2021 RAS Interview date RAS 2018 Bharti

RPSC RAS Mains Result 2021 :-उच्च न्यायालय की बेंच सोमवार को राजस्थान प्रशासनिक सेवा (आरएएस) भर्ती-2018 पर बड़ी राहत दी। कुल 1014 पदों के लिए हुई मुख्य एग्जाम का रिजल्ट रद्द करने के एकलपीठ के आदेश को खंडपीठ ने गलत माना है। राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) द्वारा जारी रिजल्ट को विधिक व उचित करार देते हुए आरपीएससी को कहा है कि वह पूर्व के मेन्स के आधार पर ही भर्ती प्रोसेस जारी रखे। यह निर्देश मंगलवार को जस्टिस सबीना व एमके व्यास की खंडपीठ ने आरपीएससी व कार्मिक विभाग की अपील को स्वीकार करते हुए दिया।

RAS Interview Date 2021

बता दें कि उच्च न्यायालय ने मामले में 24 फरवरी को पक्षकारों की बहस पूरी होने पर फैसला सुरक्षित रखा था। इससे पहले एकलपीठ ने साक्षात्कार (interview) में दो गुना अभ्यर्थी नहीं बुलाने के कारण रिजल्ट ही रद्द करने के आदेश दिए थे। वहीं, राजस्थान लोक सेवा आयोग अध्यक्ष डॉ. भूपेंद्र यादव ने संकेत दिए हैं कि मार्च के आखिर तक इंटरव्यू किए जा सकते हैं।

RPSC RAS Mains Result 2021

RPSC RAS Mains Result 2021

उच्च न्यायालय एकलपीठ ने 17 दिसंबर को कविता गोदारा व अन्य की याचिका पर मेन्स का रिजल्ट रद्द किया था। पदों के मुकाबले 2 गुणा अभ्यर्थियों को साक्षात्कार में बुलाने के साथ भर्ती विज्ञापन के दिन लागू नियम के अंतर्गत जरनल Cutoff जारी करने को कहा था। अधिवक्ता विज्ञान शाह ने बताया कि आरपीएससी को न्यूनतम अंक तय करने की शक्ति है। फिर भी अलग-अलग कट ऑफ जारी कर इंटरव्यू में केवल डेढ़ गुणा अभ्यर्थी बुलाए गये, जबकि इंटरव्यू में कम से कम दो गुणा उम्मीदवारों को बुलाया जाना चाहिए था। इसलिए मुख्य परीक्षा का परिणाम रद्द किया जाये।

RAS 2018 Bharti interview date

राज्य सरकार के एजी एमएस सिंघवी और आरपीएससी के अधिवक्ता मिर्जा फैसल बेग ने बहस में कहा कि उन्होंने भर्ती का परिणाम नियमानुसार ही जारी किया है। 1999 से ही इस तरह से ही रिजल्ट जारी करते आ रहे हैं। कुल पदों के मुकाबले दो गुणा उम्मीदवारों को इंटरव्यू में शामिल करने पर करीब 700 कैंडिडेट ज्यादा बुलाने पड़ेंगे। इससे चयन प्रक्रिया पूरी करने में अधिक वक्त लगेगा। इंटरव्यू की गुणवत्ता भी प्रभावित होगी। इसलिए एकलपीठ का आदेश रद्द कर आरपीएससी को अभ्यर्थियों के इंटरव्यू लेने की मंजूरी दी जाये।

आवेदकों के अधिवक्ता विज्ञान शाह ने बताया कि अभी उन्हें बैंच के आदेश की प्रतिलिपि नहीं प्राप्त हुई है। ऐसे में आदेश देखने और आवेदकों से बातचीत करने के बाद ही उच्चतम न्यायालय (SC) में विशेष अनुमति याचिका (एसएलपी) दायर करने पर फैसला लिया जाएगा।

आरएएस 2018 परीक्षा–

राजस्थान राज्य और अधीनस्थ सेवा संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा 2018 के तहत विभिन्न विभागों में कुल 1014 रिक्तियों की घोषणा की थी। इसके लिए  मुख्य परीक्षा 25 जून, 26, 2019 को आयोजित की गई थी और प्रीलिम्स का रिजल्ट 23 अक्टूबर, 2018 को जारी किया गया था।

RAS 2018 Court decision

Leave a Comment