Rajasthan Health Insurance 2022 Link-health.rajasthan.gov.in

Rajasthan Health Insurance 2022-Rajasthan Scheme Apply Online, Scheme Application Form, Scheme Online Registration RGHS Scheme View Hospital List Notifications

Rajasthan Health Insurance Scheme 2022-महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के मौके पर राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार आयुष्मान भारत-महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत प्रदेशवासियों को नई सौगात देने जा रही है। इस स्कीम के तहत अब 3.30 लाख के स्थान पर 5 लाख रुपए का निशुल्क उपचार मिल सकेगा। सीएम अशोक गहलोत योजना के नये चरण का कल यानी 30 जनवरी 2022 को शुभारंभ करेंगे।

Rajasthan Health Insurance Scheme 2021

Rajasthan Health Insurance 2022-Details

बतादें की इस योजना का नए चरण में दायरा बढ़ाया जा रहा है। इससे राज्य के 1.10 करोड़ परिवारों को निशुल्क उपचार की सुविधा मिल सकेगी। इसमें सामाजिक आर्थिक जनगणना के पात्र परिवार भी शामिल किये जा रहे हैं। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को सामान्य बीमारियों के लिए 50,000 रुपये और गंभीर बीमारियों के लिए 4 लाख 50 हजार रुपये तक का मुफ्त इलाज मिल सकेगा। इसमें एनएफएसए के 98 लाख लाभार्थी परिवार भी शामिल होंगे। योजना का लाभ प्राप्त काने लिए लाभार्थी को हॉस्पिटल में आधार कार्ड या जनाधार कार्ड दिखाना होगा।

RGHS Insurance 2022-Registration Here

1400 करोड़ रुपये का राज्य सरकार पर पड़ेगा बोझ:- इस योजना का सालाना प्रीमियम 1750 करोड़ का होगा और राज्य सरकार इसका करीब 80% (1400 करोड़) अंशदान वहन करेगी। योजना में प्रति परिवार सालाना निशुल्क उपचार सीमा बढ़ाई गई है। इसके तहत अब 5 लाख रुपए का मुफ्त उपचार मिल सकेगा। योजना में पैकेज की संख्या भी 1401 से बढ़ाकर 1576 कर दी गई है। बता दें कि इस योजना के पैकेज की लिस्ट में हीमोडायलिसिस और कोविड-19 जैसे रोगों को भी शामिल किया गया है। इसमें लाभार्थी परिवार को भर्ती से 5 दिन पहले और डिस्‍चार्ज के 15 दिन बाद तक का चिकित्सा खर्च उपलब्ध कराया जायेगा।

राज्य की करीब दो तिहाई आबादी को लाभ -राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना के लाभ

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि सरकार ने दिसंबर 2019 में निरोगी राजस्थान अभियान शुरू किया था और अब 30 जनवरी आयुष्मान भारत महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना के नए चरण को शुरू करने की अभिनव पहल की जा रही है। यह राज्य की लगभग दो तिहाई आबादी के स्वास्थ्य की रक्षा के लिए अहम कदम साबित होगा।

इंटर स्टेट पोर्टिबिलिटी !

हैल्थ एश्योरेंस एजेंसी की सीईओ अरुणा राजोरिया ने कहा की अगले कुछ समय में इंटर स्टेट पोर्टिबिलिटी भी आरंभ की जाएगी | जिसके जरिए प्रदेश के लाभार्थी अन्य राज्यों में भी मुफ्त उपचार का लाभ ले पाएंगे। इसके अलावा इस बार एन्टी फ्रॉड यूनिट का प्रावधान भी है, जो अस्पतालों की ओर से सबमिट क्लेम की मॉनिटरिंग व ऑडिट करेगी। उन्होंने आगे कहा की क्लेम प्रोसेसिंग को सुगम बनाने और फ्रॉड को रोकने के लिए सॉफ्टवेयर में प्रावधान किया गया है।

Rajasthan Health Insurance Scheme 2021

गौरतलब है कि केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना को पिछली वसुंधरा सरकार ने प्रदेश में लागू करने से मना कर दिया था। उस समय वसुंधरा सरकार कहा था कि पहले से ही प्रदेश में भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना चल रही है। लोगों को यह योजना स्वास्थ्य सुरक्षा देती है। आयुष्मान भारत योजना लागू करने से उसके प्रावधानों की वजह से प्रदेश के काफी लोग इसके दायरे से बाहर आ जाएंगे। प्रदेश मे कांग्रेस की गहलोत सरकार आने के बाद वसुंधरा राजे सरकार की भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना को बंद कर दिया गया था। अब सीएम गहलोत ने केंद्र सरकार की योजना के साथ ही वसुंधरा सरकार की स्वास्थ्य बीमा योजना को शामिल करते हुए आयुष्मान भारत महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना लागू करने का फैसला लिया है।

For more information visit //health.rajasthan.gov.in/content/raj/medical/en/home.html#

Q.1 आयुष्मान कार्ड से क्या है फायदा?
Ans.आयुष्मान भारत राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना है, जो 10 करोड़ गरीब और कमजोर परिवारों (लगभग 50 करोड़ लाभार्थियों) को कवर करेगी, जो माध्यमिक और तृतीयक देखभाल अस्पताल में भर्ती के लिए प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक का कवरेज प्रदान करते हैं।
Q.2 मैं अपने आयुष्मान कार्ड पात्रता की जाँच कैसे करूँ?
Ans. अपनी पात्रता का पता लगाने के लिए आप हेल्पलाइन नंबर, 14555 पर कॉल कर सकते हैं। आप इसे एनएचए के पोर्टल पर ऑनलाइन भी देख सकते हैं। संभावित लाभार्थियों की जांच में मदद करने के लिए एक वेबसाइट और एक हेल्पलाइन नंबर शुरू किया गया है, अगर उनका नाम आयुष्मान भारत योजना की अंतिम सूची में है।
Q.3 आयुष्मान भारत का वेतन क्या है?
Ans. लाभार्थी परिवार के लिए हर साल 5 लाख रुपये तक का कवर उपलब्ध है। इस योजना का उपयोग प्राथमिक, माध्यमिक और तृतीयक स्वास्थ्य सेवा प्राप्त करने के लिए किया जा सकता है। योजना का लाभ किसी भी सरकारी अस्पताल या निजी अस्पताल में लिया जा सकता है।

Leave a Comment