Hajj 2021 application form, online registration हज यात्रा-2021

Hajj 2021 application form :-कोरोना वायरस के कारण 2020 में हज यात्रा (Haj Yatra) को निरस्त कर दिया गया था जिसके बाद अब हज 2021 के लिए तैयारी शुरू कर दी गई है। भारत और सऊदी अरब सरकार ने कोरोना को लेकर हज के लिए नई गाइडलाइन तैयार की है। केंद्रीय हज कमेटी के नये सकुर्लर के अनुसार अब हर हज यात्री पर अनुमानित खर्च 3.75 लाख रुपए आयेगा। वहीं सैंकेड क्लास वाली अजीजिया कैटेगरी में ही हज कराया जाएगा। बतादें कि 2019 में राजस्थान से हज यात्रा पर जाने का खर्च 2.25 लाख रुपए आता था। लेकिन इस साल की हज यात्रा 1.50 लाख रुपए ज्यादा महंगा हो गई है।

Hajj 2021 Application form

Hajj 2021 application form Details

बता दें कि वर्ष 2021 की हज यात्रा के लिए पूरे देश से 8 हजार लोगों ने आवेदन किया है। उत्तर प्रदेश से करीब 6,367 फॉर्म भरे गए हैं। वहीं बरेली से 222, पीलीभीत से 41, बदायूं से 47, शाहजहांपुर से 44 हज यात्रियों ने ही हज यात्रा पर जाने की इच्छा जाहिर की है। अगर बात करें राजस्थान की तो यहां से हज यात्रा के लिए 1400 आवेदन  मिले हैं। जयपुर से सबसे अधिक 130 से ज्यादा आवेदन हुए हैं। ऑनलाइन फॉर्म आवेदन देने वाले में कुल 1210 लोगों का कवर नंबर जेनरेट कर दिया गया है। आवेदन के साथ जिन लोगों ने पूरा डॉक्यूमेंट जमा किया, उन्हें कमेटी की ओर से कवर नंबर दिया गया है।

लेटेस्ट अपडेट-

कोरोना संक्रमण के फिर से बढ़ने के कारण सऊदी सरकार ने भारत सहित अन्य देशों की अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवा 17 मई तक रोक दी है। ऐसे में हज यात्रा को लेकर संशय बना हुआ है। पिछले वर्ष भी कोरोना के कारण हज यात्रा स्थगित कर दी गयी थी। हर वर्ष बड़ी संख्या में भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश और इंडोनेशिया से मुसलमान हज की यात्रा पर जाते हैं। वहीं इस साल अब तक सऊदी ऑथोरिटी की तरफ से हज यात्रियों के लिए कोई फैसला नहीं लिया गया है।  यहां तक कि अब तक प्री सिलेक्शन प्रोसेस भी शुरू नहीं किया गया है। 

कोरोना में हज यात्रा के बदले नियम-

18 से 65 साल की उम्र वाले ही हज पर जा सकेंगे।

65 वर्ष से अधिक की उम्र वाले लोगों की हज यात्रा पर रोक रहेगी।

इस बार बिहार से हज की सफर पर जाने वाले श्रद्धालु की फ्लाइट कोलकाता से उड़ान भरेगी।

इस बार जयपुर से रवाना नहीं होंगी हज की उड़ानें, हज यात्रियों को दिल्ली से जाना होगा।

रवानगी से तीन दिन पहले कोरोना टेस्ट करवाना होगा।

हज जाने से पहले यात्रियों को कोविड-19 वैक्सीन लगाई जाएगी।

पॉजिटिव पाए जाने पर आवेदक की हज यात्रा रद्द कर दी जाएगी।

हज यात्रियों को सऊदी अरब में भी पहले खुद को क्वारेटाइन करना होगा।

गर्भवती महिलाओं, लीवर, किडनी, कैंसर और हृदय रोगियों को हज यात्रा पर जाने की अनुमति नहीं मिलेगी।

हज की अवधि 30 से 35 दिन रहेगी।

जून-जुलाई 2021 में हज यात्रा पर जाने के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया नवंबर 2020 में शुरू हुई थी और इसकी अंतिम तिथि 10 जनवरी 2021 थी।

देश से पिछले वर्षों में हज यात्रा पर जाने वालों की संख्या-

2017 में 4,48,268

2018 में 3,55,604

2019 में 2,67,261

2020 में 2,13,726 (कोविड के चलते यात्रा रद)

2021 में 60,000 आवेदन

फ्लाइट मिस करने पर 25 हजार जुर्माना लगेगा-

यात्रा से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि हज यात्रा के लिए चयनित हज यात्री अगर निर्धारित की गई तारीख में अपना फ्लाइट मिस करते हैं तो उन्हें जुर्माना भी लगाया जा सकता है। जुर्माने के तौर पर उनसे 25 हजार रुपए लिया जाएगा। वहीं यात्री 31 मार्च तक आवेदन निरस्त करता है तो 1000 रुपए, एक अप्रैल से 30 अप्रैल तक निरस्त करने पर 5 हजार रुपए काटे जाएंगे।

वर्तमान समीक्षा स्थिति के अनुसार, अज़ीज़िया श्रेणी के लिए हज -2021 की अनुमानित लागत इस प्रकार है:

Embarkation Point                    Approximate Estimated Cost

Ahmedabad                            Rs.3,28,168.40

Bengaluru                               Rs.3,42,994.40

Cochin                                 Rs.3,56,433.40

Delhi                                   Rs.3,44,809.40

Guwahati                               Rs.3,99,273.40

Hyderabad                              Rs.3,49,381.40

Kolkata                                 Rs.3,69,050.40

Lucknow                                Rs.3,44,133.40

Mumbai                                 Rs.3,29,279.40

Srinagar                                 Rs.3,61,927.40

Apply online for Hajj 2021 application form

Leave a Comment