उच्चकोटि की समाज सेविका भी हैं मिसेज यूनिवर्स 2019 (एशिया जोन) नीमा पंत

पुनीत कुमार (शिक्षक), लुधियाना ( पंजाब )

लखनऊ (उत्तर प्रदेश) निवासी नीमा पंत ने अपने जज़्बे, जूनून और हौंसले के दम पर वी.वी.एन. एंटरटेनमेंट की ओर से आयोजित मिसेज यूनिवर्स 2019 सौंदर्य प्रतियोगिता में सैंकड़ों प्रतिभागियों को पछाड़कर मिसेज यूनिवर्स 2019 ( एशिया जोन ) का खिताब जीतकर लखनऊ का नाम विश्वभर में रोशन किया है। इससे पहले भी वह आइकोनिक पर्सनैलिटी अवार्ड ‘2019’ , एसेन्स ऑफ ब्यूटी ‘2019’ और मिसेज नार्थ इंडिया ‘2019’ विजेता का खिताब जीत चुकी हैं।

ध्यान देने योग्य बात यह है कि नीमा पंत की पारिवारिक पृष्ठभूमि ग्लैमर जगत से नही है और ना ही इनसे पहले उनके परिवार के किसी सदस्य ने माडलिंग वगैरह में हाथ आज़माया है। नीमा पंत का जन्म 21 मई 1972 को अलमोड़ा में हुआ था। इनके पिता जी आर्मी ऑफिसर के पद से रिटायर है एवं माँ शिक्षिका के पद से रिटायर हैं।

इन्होंने कानपुर में रहकर अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की और उसके बाद 1993 में काॅलेज आफ नर्सिंग से बैचलर ऑफ साइंस आनर्स किया फिर कोलकाता के बी.एम. बिड़ला हार्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट से कार्डियक थोरेसिक नर्सिंग में 18 महीने का कोर्स किया। वर्ष 1995 में एस.जी.पी.जी.आई. में नर्सिंग अधिकारी के पद पर कार्डियोलॉजी आई.सी.यू. में कार्य प्रारंभ किया और इस समय वह पदोन्नति प्राप्त करके कार्डियोलॉजी के नाॅन इनवेसिव लैब प्रभारी के पद पर कार्य कर रही है।

वह मिसेज यूनिवर्स होने के साथ-साथ उच्चकोटि की समाज सेविका भी है और अपनी तमाम व्यस्तताओं के बावजूद 30 से अधिक बार रक्तदान कर चुकी हैं तथा महिलाओं को स्व स्तन परीक्षण की जानकारी देकर स्तन कैंसर के बारे में जागरूक कर रही हैं। ताकि समय रहते वे इस भयंकर रोग के प्रति सचेत होकर इससे बच जाएं।

इनके सराहनीय सामाजिक कार्यों को देखते हुए और 30 से अधिक बार रक्तदान करने के लिए इन्हें एस.जी.पी.जी.आई के डिपार्टमेंट आफ ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन द्वारा सम्मानित भी किया जा चुका है। यह अपनी सफलता का सारा श्रेय अपने पति प्रोफेसर डॉ. सुदीप कुमार और बेटी देवीना को देती हैं। आजकल यह सौंदर्य प्रतियोगिताओं में एक निर्णायक के तौर पर महिलाओं को खूब प्रोत्साहित कर रही हैं। और युवा पीढ़ी को माॅडल के साथ-साथ रोल मॉडल बनने के लिए भी प्रेरित कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *