अधूरे ख्वाब

कल्पना सिंह, रीवा (मध्य प्रदेश) दिल में यादों के नश्तर चुभोती वही उदास स्याह रात। जहां सिवाय तन्हाई के कुछ

Read more

वर्षा ऋतु भादवा संग छम-छम आवै बिरखा बींदणी

सुबेदार रावत गर्ग उण्डू, बाड़मेर (राजस्थान) श्रावण मास को विदाकर खुशगवार भादवा देशभर में पूरी तरह से दस्तक दे चुका

Read more

ठाकुर साहब का सख्त निर्णय

आशुतोष, पटना (बिहार) ठाकुर रणवीर सिंह बहुत मिलनसार और दूसरो के प्रति दया रखने वाले लोग थे लेकिन नाइंसाफी पर

Read more

मुंशी प्रेमचंद “कलम का सिपाही”

डॉ रचना सिंह “रश्मि”, आगरा मुंशी प्रेमचंद हिंदी साहित्य के प्रमुख स्तंभ थे जिन्होंने हिंदी जगत को कहानियाँ एवं उपन्यासों

Read more

जीवन का यादगार प्रसंग

डॉ गुलाब चंद पटेल, गुजरात, गांधीनगर गांधीनगर गुजरात कमिश्नरऑफ़ स्कूल ऑफिस पुराने सचिवालय डॉ जीवराज मेहता भवन से से मेरा

Read more

व्यंग्य : फेसबुक है तो सबकुछ है

विनोद कुमार विक्की जिस प्रकार बाबा रामदेव ने पतंजलि लांच कर कारपोरेट जगत में धमाल मचा दिया उसी प्रकार मार्क

Read more

तिरंगा

नीरज त्यागी, ग़ाज़ियाबाद (उत्तर प्रदेश) रवि और उसका बेटा गुड्डू आज 15 अगस्त की छुट्टी के दिन अपनी कार में

Read more

आम जनमानस से जुड़े विषय हैं संतराम पाण्डेय के व्यंग्य संग्रह में

निक्की शर्मा ‘रश्मि’, मुंबई मैं ज्यादा नहीं जानती कि व्यंग्य क्या होता है। व्यंग्य किस तरह लिखा जाना चाहिए लेकिन

Read more

व्यंग्य : नश्तर, कैंसर का आपरेशन जरूरी था

ललित शौर्य, पिथौरागढ़ (उत्तराखंड) धाराओं का निरन्तर प्रवाह ही अच्छा लगता है। अगर ये स्थिर हो गई तों सड़ाँध पैदा

Read more

आजादी है पूरी आजादी है !

देवेन्द्रराज सुथार, जालोर, राजस्थान आज देश आजाद है। सबको अपनी-अपनी आजादी है। किसी को सिगरेट पीने की तो किसी को

Read more