मुझे तुम याद आते हो

कल्पना सिंह, रीवा( मध्य प्रदेश) तुमसे शुरु तुम ही पर खत्म चाहत मेरी, जानते हो फिर इतना क्यों सताते हो?

Read more

बिहार में लगा राष्ट्रीय स्तर के साहित्यकारों का महाकुंभ

खगड़िया में दो दिवसीय जानकी बल्लभ शास्त्री स्मृति महापर्व संपन्न (उत्तराखण्ड मिरर) बिहार के खगड़िया में दो दिवसीय जानकी बल्लभ

Read more

चुनावकिं हलचल (कुमांऊनी रचना)

भुवन बिष्ट, रानीखेत (उत्तराखंड) हलचल हैरै आब ऐगी चुनाव, फेसबुक मुबाईल में मारण रयी उच्छयाव।। क्वें जोड़न लागि रयीं आब

Read more

छटपटाती इच्छाएं

राजकुमार जैन राजन, (चित्तौड़गढ़) राजस्थान पिंजरे में बंद तोते की तरह हमारी जागृत इच्छाएं छटपटा रही है जिसमे उसकी उड़ान

Read more

साम्प्रदायिक सद्भावना प्रतिक लोक देवता बाबा रामदेव

बाबा श्री रामापीर मेला पर विशेष आलेख नायब सुबेदार रावत गर्ग उण्डू बाड़मेर, राजस्थान जन-जन के आस्था और साम्प्रदायिक सद्भावना

Read more

ग़ज़ल : अहसास की पैजनिया

शावर भकत ‘भवानी’, कोलकाता (पश्चिम बंगाल) अहसास की पैजनिया तेरी करे है छम छम जज़्बात थिरकते बिछिया बनके मेरे हमदम

Read more

मैं भारत हूँ

सूर्यकरण सोनी ‘सरोज’, बाँसवाड़ा (राजस्थान) उबल रही ज्वाला उर में तुम शांति इसे ना मानो अनुयायी मैं तथागत का मुझको

Read more

जन्माष्टमी एक पौराणिक त्योहार

डॉ गुलाब चंद पटेल कवि लेखक अनुवादक इस साल जन्माष्टमी कब हे इस के लिए लोग उलझन में हे, कुछ

Read more

हांडी रानी की भूमि सलूम्बर

डॉ गुलाब चंद पटेल बहुत ही मीठा हे जहा का पानी, वहा देखने मिली हमे हांडी रानी ना स्टे मे

Read more

भीतर की आग

राजकुमार जैन राजन, (चित्तौड़गढ़) राजस्थान फिर कहीं किसी मासूम के साथ कुकर्म के समाचारों से लगने लगा जैसे ईश्वर मर

Read more